Do you have Questions? Ask an Astrologer now

	 

ठंड में हाथ-पैर की सूजन

How to do🪶🪶

 

Swelling of the hands in the cold Swelling of the hands leg in winter is a painful problem. These problems can occur at any age. In this situation, the victim has to face a lot of trouble. It has swelling, redness and burning sensation around feet, especially ankles and ankles. The problem of inflammation can occur in any season, but this problem increases further in the winter. Apart from this, there are many reasons for this problem of inflammation. Today we are telling you the reasons for this and treatment methods.Swelling of the hands in the cold In winter, the problem of getting swollen feet with feet, especially red marks on the toes or itching is quite common. Chillablase, this disease is caused by a sudden change in winter or a sudden change in temperature in winter. Although it is a common disease in winter, but it can be painful if you do not pay attention. This is a connective tissue disease. By taking simple measures it can be avoided. Prevent winter, wear gloves and socks. Quit outside in the sun, roam. * Oil and candle A mixture of candles and mustard oil is very beneficial to avoid swelling of hands and redness in winter. Heat the mustard oil in a bowl and then place one candle in it. Cook this until the candle is completely melted. Now cool it down and place it in a bloated place and massage with light hands. You will get relief only after applying it 2 to 3 times. * Massage from hot oil Take a little oil in the bowl, keep it on the pan and heat it. Massage the foot with this oil. Massage with light hands, for a few minutes. In this affected blood, blood will be communicated and pain will be removed and you will get relief. As long as the swelling persists, massage it like this two to three times a day. Use olive or coconut oil for this massage. Keep in mind that the temperature of the massage rooms of the massage is normal. Do not massage in the AC or cold environment. * Ice Bake Snow coaching is an effective home remedy for ankle swelling and pain removal. For this, take some pieces of ice and break it with the help of a cylinder or something else. Then put them in a bag and wrap them in a cotton towel. Keep this bag in a painful place. This will reduce swelling and pain both. You can keep this bag for 15 minutes at a time. For more comfort, use it several times a day.


	 
 

ठंड में हाथ-पैर की सूजन सर्दियों में हाथ पैर की सूजन एक दर्दभरी समस्या है। ये समस्या किसी भी उम्र में हो सकती है। इस स्थिति में पीड़ित व्यक्ति को काफी तकलीफ का सामना करना पड़ता है। इसमें पैर, खासतौर पर टखनों और एड़ियों के आसपास सूजन, लालिमा और जलन हो जाती है। ये सूजन की समस्या किसी भी मौसम में हो सकती है लेकिन सर्दियों में ये समस्या और अधिक बढ़ जाती है। इसके अलावा, कई और कारणों से ये सूजन की समस्या होती हैं। आज हम आपको इसके कारण और इलाज के तरीके बता रहे हैं।सर्दियों में पैरों, खासतौर पर पैर की उंगलियों पर लाल निशान बनने या खुजली के साथ सूजन आने की समस्या काफी आम है। चिलब्लेंस नामक यह बीमारी सर्दियों में नंगे पैर घूमने या तापमान में अचानक बदलाव से होती है। हालांकि सर्दियों में यह सामान्य बीमारी है, लेकिन ध्यान नहीं देने पर कष्टदायक हो सकती है। यह एक कनेक्टिव टिश्यूज डिजीज है। साधारण उपाय करके इससे बचा जा सकता है। सर्दी से बचाव रखें, दस्ताने व मोजे पहने। धूप में ही बाहर निकलें, सिंकाई करें। * तेल और मोमबत्ती सर्दियों में हाथ पैर की सूजन और लालिमा से बचने के लिए मोमबत्ती और सरसों के तेल का मिश्रण बहुत फायदेमंद है। एक कटोरी में सरसों के तेल को गर्म करें और फिर उसमें 1 मोमबत्ती डालें। मोमबत्ती को पूरा पिघलने तक इस पकाएं। अब इसे ठंडा करें और सूजन वाली जगह पर लगाएं और हल्के हाथों से मसाज करें। 2 से 3 बार इसे लगाने पर ही आपको आराम मिल जाएगा। * गर्म तेल से मालिश कटोरी में थोड़ा तेल लें, तवे पर रखकर उसे गर्म कर लें। इस तेल से पैर की मसाज करें। मसाज हल्के हाथों से, कुछ मिनटों के लिए करें। इससे प्रभावित नसों में रक्त का संचार होगा और दर्द दूर होगा और आपको आराम मिलेगा। जब तक सूजन बनी रहे, दिन में दो से तीन बार इस तरह से मसाज करें। इस मसाज के लिए आप जैतून या नारियल के तेल का इस्तेमाल करें। ये ध्यान रखे मालिश के सयम कमरें का तापमान सामान्य हो। एसी या ठंडे वातावरण में मालिश ना करें। * बर्फ की सेंक बर्फ की सेंक टखने की सूजन और दर्द को दूर करने के लिए एक कारगर घरेलू उपाय है। इसके लिए, कुछ बर्फ के टुकड़े लें और उसे बेलन या किसी और चीज की सहायता से तोड़ लें। फिर एक बैग में रखकर कॉटन के टॉवेल में लपेट लें। इस बैग को दर्द वाली जगह पर रखें। इससे सूजन और दर्द दोनों कम होंगे। एक बार में आप इस बैग को 15 मिनट तक रख सकते हैं। ज्यादा आराम के लिए इसे दिन में कई बार इस्तेमाल करें। * आटा भी है फायदेमंद आटा ऐसी चीज है जो हर किचन में आसानी से उपलब्ध हो जाती है। आटा गर्माहट देने वाला होता है, इसकी गर्माहट से दर्द से जल्दी राहत मिल जाती है। आटे और वाइन का पेस्ट बना कर तीस मिनट तक दर्द वाली जगह पर लगाएं। उसके बाद गुनगुने पानी से इसे धोकर हल्की मसाज के साथ मॉइस्चराइजर लगाएं। * गर्म पानी और नमक फुट टेन्डोनिटिस में गर्म पानी और सेंधा नमक भी कारगर है। गर्म पानी में सेंधा नमक मिलाकर 10 से 15 मिनट के लिए अपना पैर इसमें रखें। पानी की गर्माहट दर्द को खीच लेगी और सेंधे नमक से शरीर में मैग्नीशियम की पूर्ति होगी। पैर को ड्राईनेस से बचाने के लिए इस प्रक्रिया को दिन में एक बार ही करें। इसके बाद गीलेपन को पोंछ लें। इस पानी में खुशबू वाले तेल की कुछ बूंदे भी डाल सकते हैं।



Disclaimer(DMCA guidelines)

Please note Vedic solutions,remedies,mantra & Planetry positions are mentioned by Ancient Sages in Veda and it is same everywhere hence no one have sole proprietorship on these.Any one free to use the content.We have compiled the contents from different Indian scripture, consisting of the Rig Veda, Sama Veda, Yajur Veda, and Atharva Veda, which codified the ideas and practices of Vedic religion and laid down the basis of classical Hinduism with the sources,books,websites and blogs so that everyone can know the vedic science. If you have any issues with the content on this website do let us write on care.jyotishgher@gmail.com.

Explore Chalisha

FAQ